PM Modi का LockDown4 को लेकर संबोधन का सारांश

पीएम मोदी ने लॉकडाउन 4 के बारे में कहा कि इसकी जरूरत होगी लेकिन इस बार लॉकडाउन का नया रूप और रंग होगा जो 18 मई से पहले घोषित किया जाएगा।

* सभी राज्यों से बात करने के बाद लॉकडाउन 4 का फैसला किया गया है।
* इस बार एक आत्मनिर्भर भारत लॉकडाउन में एक अभियान चलाएगा
* हम कोरोना के साथ लड़ेंगे और उसी समय हम एक नई शैली में काम करेंगे - पीएम मोदी

विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा, जो एक आत्मनिर्भर भारत की जरूरतों पर काम करेगा।


- 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा

- भारत की जीडीपी का लगभग 10 प्रतिशत
2020 में 20 लाख करोड़ रुपये का पैकेज आत्मनिर्भर भारत अभियान को गति देगा।

- भूमि, श्रम, तरलता और कानून के लिए काम करेंगे

- यह पैकेज कुटीर उद्योग, आवास उद्योग, लघु और मध्यम उद्योग के लिए सहायता प्रदान करेगा।

- यह देश के उन श्रमिकों और किसानों के लिए एक पैकेज है जो देशवासियों के लिए दिन रात काम करते हैं।

- कल से कुछ दिनों के लिए, वित्त मंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान से संबंधित पैकेज के बारे में विशेष जानकारी देंगे।
- कोरोना संकट ने स्थानीय बाजार, स्थानीय आपूर्ति श्रृंखला, स्थानीय उत्पादों के महत्व को महसूस किया है। स्थानीय लोग हमें बचा रहे हैं। स्थानीय हमारा जीवन मंत्र होना चाहिए।

- आज जो वैश्विक है वह हर एक चरण में स्थानीय था। लेकिन यह लोगों का विश्वास जीतकर वैश्विक हो गया है।


कुछ अहम मुद्दे 

१) आत्मनिर्भर भारत का संकल्प। लेकिन यह आत्मकेंद्रित नहीं। इसमें पूरे विश्व को परिवार मानने का और पृथ्वी को मां मानने का संकल्प है। सुखी समृद्धि विश्व इसी से संभव है।

२) भारत के लिए यह संकट एक अवसर लेकर आयी है। 

३) PPE और N95 मास्क बनाकर भारत ने आपदा को अवसर में बदल दिया।

४) मानव केंद्रित वैश्वीकरण की आवश्यकता है। मानव जाति के कल्याण के लिए भारत बहुत कुछ दे सकता है।

५) सप्लाई चैन को आधुनिक बनाएंगे। इसके हर स्टेक होल्डर को मजबूत बनाएंगे।

६) आत्मनिर्भर भारत के पांच पिलर- १) अर्थव्यवस्था २) बुनियादी संरचना ३) तकनीक आधारित व्यवस्था ४) डेमोग्राफी अर्थात जनसंख्या ५) डिमांड अर्थात मांग

७) 20 लाख करोड़ रुपए का विशेष आर्थिक पैकेज, जो भारत के GDP का करीब १०% है। 2020 में देश की विकास यात्रा को आत्मनिर्भर भारत बनाएगा। १) लैंड २) लेबर ३) लिक्विडिटी और ४) लॉ पर बल।

यह पैकेज कुटीर, गृह, मंझोले और लघु उद्योग के लिए है। यह मजदूर, किसान, मध्यम वर्ग और उद्यमी के लिए है।

८) रिफार्म का क्षेत्र: १) खेती से जुड़ी सप्लाई चैन में २) टैक्स सिस्टम ३) प्रो बिज़नस ४) निवेश ५) मेक इन इंडिया पर बल।

९) लोकल को जीवन मंत्र बनाना होगा- लोकल के लिए लोकल बनना है‌। लोकल प्रोडक्ट भी खरीदना है और उसका प्रचार भी करना है। १) लोकल मैन्युफैक्चरिंग २) लोकल मार्केट ३) लोकल सप्लाइचैन को मजबूत बनाना है। 

१०) कोरोना लंबे समय तक हमारे जीवन का हिस्सा बना रहेगा। मास्क पहनें और दो गज दूरी का पालन करें।

११) #LockDown4: 18 May से पहले जानकारी दी जाएगी। 

१२) आचार, विचार, कर्मठता और कौशल के जरिए भारत को आत्मनिर्भर बना कर रहेंगे।

सोर्स: whatsapp

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा पसंद आये तो ज्यादातर शेयर करे और ऐसे ही न्यूज़ के लिए हमारी साइट gujaratio.in देखते रहे ।
धन्यवाद सभी का ।

Post a comment

0 Comments